Sunday, August 27, 2017

गणपति बप्पा मोरिया | गणपति देव को ऐसे विसर्जित करके कर लें मन की हर मुर...

गणपति बप्पा मोरिया |  गणपति देव को ऐसे विसर्जित करके कर लें मन की हर मुराद |

गणपति बप्पा मोरिया के जयकारों से गूंजता वातावरण | जगह-जगह गणपति विसर्जन उत्सव | सुनिए इस वीडियो में इसका सार-सत और कर लें अपनी हर इच्छा पूरी | 11 मुखी रुद्राक्ष या गौरी शंकर रुद्राक्ष से ऐसे कर लें इस बार पूजा | 
कैसी भी भौतिक कामना है, इच्छा है अथवा मनोकामना है, बस पूरी कर लें इस गणपति उत्सव में | चतुर्थी से अनंत चतुर्दशी तक कैसे करें सरल सी पूजा, यही दिया है मैंने इस video में |

Ganpati Bappa Moriya ke jaikaaron se gunjta vatavaran. Jagah-jagah Ganpati Visarjan Utsav. Suniye Gopal Raju ke is video me, Bappa Morira ka saar-sat aur kar len apni har iccha puri. Kaisi bhi bhautik sukhon ki kamna ho, iccha ho, manokamna ho eco-friendly mitti ki Ganpati ji ki murti bana len. Jal visarjan ki jagah is baar saaf se gamle me bappa ko virajman karke panch tatvon me is prakar se visarjit karen dev ko. 
sambhav ho to safed aak ke ped, 11 mukhi ya gauri shankar rudraksh se video me diye anusar nity pujan karen aur pa len manvanchit phal

►►Other related videos for fulfilling of desire from Gopal Raju Motivational Videos -

►आप से आप होने लगेगी सुख की बारिश 
https://www.youtube.com/watch?v=xG4_x...

►अनोखा-विचित्र ऐसा अजूबा नारियल 
https://www.youtube.com/watch?v=V7WWw...

►बस एक केसरिया कनेर का फूल कर देगा हर इच्छा पूरी 
https://www.youtube.com/watch?v=Y0VvB...

►For such many more clicks, articles on occult, nature and spiritual etc. subjects please keep on watching Gopal Raju at You Tube.

► My Channel, “Gopal Raju Motivational Videos”
https://www.youtube.com/c/GopalRaju

https://youtu.be/cEH9ddU7PtU

8Raaam





Tuesday, August 15, 2017

Autism Meaning In Hindi | Autism Treatment | स्वलीनता के उपचार |

What is Autism ? Beautifully Explained in This Video 

Autism ek developmental disorder hai isme baccha dekhne, sunne aur karne aadi me abnormal behaviour aur activities karne lagta hai. Chinta n karen yeh theek hone wali ek aisi bimari hai jisme baccha nazren churane lagta hai, chup rehne lagta hai, baat karo usse to abnormal response deta hai. Speech pathologist ya therapist se speech disorder ka bhi accha upay hota hai is autism rog me 
Dr Saurabh, jo ki ek surgeon hain, ne autism ko beautifully explain kiya hai.
Gopal Raju Motivational Videos me sabse pehle ye dikhaya ja raha hai ki Haath ki kuch yog mudraon se bhi is rog ka accha nidan kiya ja sakta hai. Bacche aur apne me bas communication gay theek karna hai.

Please click for details at:
https://youtu.be/iM-EX68Qr7I

►►Few related videos from Gopal Raju: 

►Shunya Mudra :
https://www.youtube.com/watch?v=DzVkX...

►Shankh Mudra :
https://www.youtube.com/watch?v=CssP2...

►Shunya Mudra
https://www.youtube.com/watch?v=eIyp6...

►Pran Mudra
https://www.youtube.com/watch?v=eKKYz...

►For such many more clicks, articles on occult, nature and spiritual etc. subjects please keep on watching Gopal Raju at You Tube.

►► My Channel, “Gopal Raju Motivational Videos”
https://www.youtube.com/c/GopalRaju 

8Raaam   8Ram 8Raam स्वलीनता के उपचार  Autism in Hindi Signs of autism Recovery from autism Hast Mudra AutismSymptoms GopalRaju



Wednesday, August 2, 2017

आप से आप होने लगेगी सुख और आनंद की दिव्य बारिश अगर मंत्र-पूजा के मर्म को...

|| श्री राम ||

   सुनें कैसे ?


मंत्र, पूजा, ध्यान आदि का मर्म क्या है और कैसे अपनाएं यह ? अगर यह जान लिया और जीवन में अपना लिया तो धन, दौलत, सुख, समृद्धि आदि की पूर्ति तो आप से आप ही होने लगेगी | मंत्र, तंत्र, पूजा, पाठ, कर्म काण्ड, टोने, टोटके, उपाय आदि सब तो तब बहुत ही छोटे से लगने लगेंगे | 
अपने आध्यात्मिक गुरु सद्श्री अद्वैताचार्य जी महाराज के श्री चरणों में बैठकर जो सीखा, पाया और भोगा वही सब इस वीडियो में दिया है | आखिर जप, तप, पूजा, पाठ, दान, पुण्य आदि करे क्या इंसान ? video में सरलतम रूप से समझाया गया है कि मंत्र, स्तोत्र, चौपाई, दोहा, सोरठा, चालीसा आदि जो कुछ भी कर रहे है उसमें नाद है, अनुनाद है क्या ? शब्द से अनाहत नाद में जा भी रहे हैं ? इनकी 9 अवस्थाओं में से किस अवस्था में पहुँच रहे हैं ? द्वैत वाद में जा रहे हैं या अद्वैतवाद में ? video में यह भी समझाया गया है कि नादाद्वैत और लयाद्वैत में जब इंसान पहुँचने लगता है तो बाहर की समस्त वृत्तियों शून्य होने लगती हैं और 9 प्रकार की ध्वनि अन्तः मन में गुंजन करने लगती हैं |

►For such many more clicks, articles on occult, nature and spiritual etc. subjects please keep on watching Gopal Raju Motivational Videos at You Tube.

https://youtu.be/xG4_xgWqlAg